Uncategorized

That Thing Called Tadhana – वो, जिसे मुकद्दर कहते हैं !

आपने बहुत सारी फिल्में देखीं होंगी जिसमें हीरो हीरोइन एअरपोर्ट पर एक शाम के लिए मिलते हैं और पूरी फ़िल्म उनकी उस मुलाक़ात और फ्लाइट होने तक के बीच के वार्तालाप की कहानी होती है। अगर यह कांसेप्ट बॉलीवुड में बन रहा होगा तोह फ़िल्म के अंत में हीरो और हीरोइन को आपस में प्यार हो जाएगा और दोनों अपनी अपनी फ्लाइट को दफा कर मोहोब्बत के कॉनसीक़ुएनसिस में डूब जाएंगे। अगर यह हॉलीवुड में बनेगा तोह फ़िल्म के अंत में हीरो हीरोइन अपनी अपनी फ्लाइट पकड़ अलग हो जाएंगे और फ़िल्म के अगले सीक्वल में 10 साल बाद दोबारा एक दूसरे से टकराएंगे। ज़ाहिर तौर पर मैं हॉलीवुड में बनी Richard Linklater की Before Sunrise  सीरीज की बात कर रहा हूँ। हिंदी फिल्मों में ऐसा प्रोयोग “london paris new york” नाम की फ़िल्म से हुआ था।

image

पर यहां पर जिस फ़िल्म की बात हो रही है इसका नाम है That Thing Called Tadhana। That Thing Called Tadhana फिलीपींस देश में बनी टेगलॉग भाषा की फ़िल्म है जो पिछले ही साल रिलीज़ हुयी है। फ़िल्म रोमाँटिक कॉमेडी है, मगर वैसी ड्रामेटिक सिचुएशन और मसालेदार मोड़ों से बनी कहानी नहीं जैसी अक्सर अंग्रेजी या हिंदी भाषा में इस जेनर की फिल्में होतीं हैं।
फ़िल्म एक रोड मूवी हो कर भी दो किरदारों की कहीं रुके हुए होने की कहानी है। हैरानी वाली बात यह भी है के इस जेनर की कोई फ़िल्म इतनी सरल, स्पष्ट, स्थिर और सीधी भी हो सकती है।

इस फ़िल्म को बहुत ही बेहतरीन तरीके से निर्देशित किया है Antoinette Jadaone ने। Antoinette इस से पहले भी एक कॉमेडी जेनर की फ़िल्म “Beauty in the bottle” बना चुके हैं।
Tadhana का अंग्रेजी अर्थ destiny होता है और हिंदी अनुवाद “मुक़द्दर” है।  Director, Antoinette के अनुसार That Thing
Called Tadhana उसका ड्रीम प्रोजेक्ट है क्योंकि इस फ़िल्म में 10 सालों में घटित हुयी प्रेमी कहानियों का, दर्दों का, तन्हाईयों का और असफल हुए प्रेम का निचोड़ है।

इस फ़िल्म का जो सबसे खूबसूरत हिस्सा है वो है इस फ़िल्म की चुलबुली पर बहुत सेंसिटिव अभिनेत्री Angelica Panganiban जिन्होंने Mace का किरदार निभाया है। उन्होंने एक ऐसी लड़की का किरदार निभाया है जिसका 8 साल के रिलेशनशिप  के बाद ब्रेकअप हुआ है और पूरी फ़िल्म में वो बहुत ही मासूमियत के साथ अपने असफल हुए प्रेम का दर्द बाटतीं हैं।
प्रेम कभी भी कुछ छीनता नही है। वो बहुत कुछ दे जाता है। चाहे असफल भी क्यों हो ! वो भावना दे जाता है जो और किसी चीज़ के साथ नही आ सकती। टूटा हुआ रिश्ता ग्रीस की तरह काम करता है। वो आपकी रगों में हिम्मत भरता है और आगे और बेहतर बिम्ब देखने के लिए आपको त्यार करता है। असफल प्रेम के बाद का एहसास बिलकुल आँखों के सामने से धुयाँ छटने के बाद स्पष्ट दिखने जैसा है।
वही पर Angelica का बखूबी साथ दिया है
JM de Guzman ने जिन्होंने Anthony का साथ दिया है। Anthony चित्रकार है और उस भोली सी बेवकूफ सी लड़की से एअरपोर्ट पर मिलता है। पूरी कहानी में यही दो किरदार हैं और कहीं भी यह फ़िल्म को थकने नही देते। फ़िल्म भर आपके चेहरे पर स्माइल रहती है।

फ़िल्म की सिनेमेटोग्राफी भी कमाल की है। Sasha Palomares को इसका श्रेय जाता है। फ़िल्म एक सपने से लगती है और मोहोब्बत के असफल होने के कई सवालों का जवाब आपको देती है। 
– Gursimran Datla

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s